News

PIB Fact Check-क्या आपको सांस लेने में परेशानी का सामना करना पड़ रहा है, तो यह 5G नेटवर्क का है असर l

सोशल मीडिया पर वायरल विडियो में साँस लेने की समस्या को 5G नेटवर्क मुख्य कारण बताया जा रहा है,कोरोना महामारी में लोगों को साँस लेने में काफी दिक्कत हो रही है, लेकिन PIB Fact Check के मुताबिक यह सूचना बिल्कुल गलत है |

जैसे-जैसे COVID – 19  Second Stage  अपना असर दिखा रही है वैसे- वैसे लोगों के मन में कोरोनावायरस को लेकर डर की स्थिति ओर भी गंभीर होती जा रही है l कोरोनावायरस के कारण धीरे-धीरे सभी राज्यों में लॉकडाउन लगाया जा रहा है और Covid – 19 Guidelines को सख्त बनाने के लिए दिशा निर्देश दिए जा रहे हैं l

5G Testing se death hu logo ki

माहौल ऐसा है, कि इस समय अगर कोई भी खबर Social Media Platform  पर आती है तो वह बहुत तेजी से फैल जाती है l इसी बीच एक Social Media Viral News Of Corona  बहुत सुर्खियों में है जो बहुत ही चौंकाने वाली हैं l

COVID – 19  महामारी से नहीं, बल्कि 5G टेस्टिंग से मर रहे हैं लोग l

  • अभी हाल ही में ही एक Corona News सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर खूब वायरल हो रही है l Viral News Of 5G Network Radiation  में यह दावा किया गया है, कि देश में जो लोगों की मृत्यु हो रही है जिसे कोरोनावायरस की दूसरी लहर बताया जा रहा है दरअसल वह Covid – 19 effects नहीं बल्कि 5G Network Radiation करने से हो रही है l
  • Viral Post Of Covid-19 में यह भी बताया गया है, की 5G Testing किस तरह से हमारे शरीर को Effect कर रही है l
  • वायरल पोस्ट के अनुसार 5G Testing करने के लिए Network से जो Radiation निकलती है उसी Radiation के कारण लोगों को सांस लेने में परेशानी हो रही है l
  • Due To 5G Radiation गला बहुत ज्यादा सूख रहा है और खांसी भी अत्यधिक हो रही है l
  • 5G Radiation से नाक में एक पपड़ी जैसी परत जम जाती है और नाक में से Blood भी निकलता है l
  • Social Media Platform पर Viral News के अनुसार यदि आप सभी के साथ ऐसा कुछ हो रहा है तो यह Corona Virus Effect नहीं, बल्कि Effect Of 5G Network Testing  का नतीजा है l इस News में यह दावा किया गया है, कि जिस तरह 4G नेटवर्क ने बहुत सारे चिड़िया और पक्षियों को खत्म कर दिया था उसी तरह यह 5G Radiation Sideeffects इंसानों को धीरे धीरे खत्म कर देगी l
  • Corona Viral News में यह कहा गया है, कि हमें 5G Network पर पाबंदी लगवाने के लिए सभी को एकजुट होकर लड़ना चाहिए ताकि जीव-जंतुओं के साथ मानव जाति को भी Sideeffects Of 5G Radiation  से बचाया जा सके l

PIB FACT CHECK  के द्वारा सच और झूठ के बारे में किया गया पता |

  • जब कभी भी News Social Media Platform पर वायरल होती हैं, तो PIB FACT CHECK के अनुसार उस News के सच और झूठ के बारे में पता लगाया जाता है l इस खबर के बारे में भी PIB Fact Check ने Research  किया l रिसर्च के दौरान यह पता चला है, कि 5G Network  Radiation News जो सोशल मीडिया पर फैलाई जा रही है उसमें बिलकुल भी सच्चाई नहीं है l
  • देश में CoronaVirus  के कारण ही लोगों की तबीयत खराब हो रही है और लोगों को सांस लेने में तकलीफ हो रही है l PIB FACT CHECK REPORT  के अनुसार 5G Network Testing का लोगों की सेहत खराब होने से किसी भी प्रकार का कोई संबंध नहीं है यह मात्र एक अफवाह है l इस Viral News पर कोई भी व्यक्ति विश्वास ना करें l ऐसी Social Media Fake News सिर्फ और सिर्फ लोगों को गुमराह करने के लिए ही फैलाई जाती है l

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *